Vaidik Dharm Bchayen

वैदिक सनातन धर्म बचाइए

मैकाले ने हमारी गुरुकुल जैसी शिक्षा प्रणाली को मिटा दिया| अब सोनिया सबको ईसा की भेंड़ बना रही है| किसान सांड को दास बनाने के लिए वीर्यहीन करता है और सोनिया दास बनाने के लिए वेश्याओं का महिमा मंडन और पोषण कर रही है| नसबंदी करा रही है|

इंडिया के प्रत्येक नागरिक के पास ईसाइयत और इस्लाम को मिटाने का भारतीय दंड संहिता की धाराओं १०२ १०५ के अधीन कानूनी अधिकार है| क्यों कि ईसाइयत और इस्लाम किसी को जीवित रहने का अधिकार नहीं देते| वैदिक सनातन धर्म को मिटाने का भारतीय संविधान के अनुच्छेद २९(१) द्वारा हर ईसाई व मुसलमान को संवैधानिक अधिकार दिया गया है| लेकिन राज्य ही राज्य से लड़ सकता है| आर्यावर्त सरकार की स्थापना वैदिक सनातन धर्म के रक्षा के लिए की गई है| निर्णय इंडिया के नागरिकों के हाथ में है| क्या आप हम लोगों की सहायता करेंगे, ताकि सोनिया आप की सम्पत्ति व पूँजी आप से छीन ले, आप की आँखों के सामने आप की सम्पत्ति और घर लूट ले, आप के दुधमुंहे आप की आँखों के सामने पटक कर मार डाले जाएँ, नारियों का सोनिया बलात्कार करा पाए और आप कत्ल हों? (बाइबल, याशयाह १३:१६). आर्यावर्त सरकार, यदि आप सहयोग करें तो, इन खूनी संस्कृतियों को धरती पर नहीं रहने देगी|

सोनिया की परेशानी

सोनिया को परेशानी यह है कि हमारा ईश्वर जारज और प्रेत नहीं है| जारज हमारे लिए अपमानजनक सम्बोधन हो सकता है, लेकिन अंग्रेजों का शासक परिवार सम्मानित जारज है| इतना ही नहीं ईसाइयों का मुक्तिदाता ईसा ही जारज है| हम वैदिक सनातन धर्म के अनुयायी कुमारी माताओं को संरक्षण और सम्मान नहीं देते| हमारे इंडिया में ईसाई घरों में भी कुमारी माताएं नहीं मिलतीं| हमारी कन्याएं १३ वर्ष से भी कम आयु में बिना विवाह गर्भवती नहीं होतीं| हमारे यहाँ विद्यालयों में गर्भ निरोधक गोलियाँ नहीं बांटी जाती| इससे वीर्यहीनता के प्रसार और देश के नागरिकों को बैल बनाने में सोनिया को कठिनाई हो रही है|

सहजीवन (बिना विवाह यौन सम्बन्ध) और सगोत्रीय विवाह (भाई-बहन यौन सम्बन्ध) को कानूनी मान्यता मिल गई है. आप की कन्याएं मदिरालयों में दारू पीने और नाच घरों में नाचने के लिए स्वतन्त्र हैं. समलैंगिक सम्बन्ध और कन्याओं को पब में शराब पीने और नंगे नाचने का अधिकार, सगोत्रीय विवाह के कानून तो जजों ने ही पास किये हैं| गांड मारिये और मराइए और जजों के गुण गाइए|

आप की कन्या को बिना विवाह बच्चे पैदा करने के अधिकार का संयुक्त राष्ट्र संघ कानून पहले ही बना चुका है. [मानव अधिकारों की सार्वभौम घोषणा. अनुच्छेद २५()]. जज शीघ्र ही कुमारी माताओं को इनाम देने का आदेश पारित करेंगे.

नीचे मैं राम चरित मानस की पंक्तियाँ उद्धृत कर रहा हूँ,

अनुज बधू भगिनी सुत नारी| सुनु सठ कन्या सम चारी|

इन्हहिं कुदृष्टि बिलोकइ जोई| ताहि बधें कछु पाप होई||”

राम चरित मानस, किष्किन्धाकाण्ड; ;

अर्थ: [श्री रामजी ने कहा] हे मूर्ख! सुन, छोटे भाई की स्त्री, बहिन, पुत्रवधू और कन्या चारों समान हैं| इनको जो कोई बुरी दृष्टि से देखता है, उसे मारने में कुछ भी पाप नहीं होता|

सोनिया के ईसा को बुरी दृष्टि की कौन कहे, सीधे बेटी (बाइबल, , कोरिन्थिंस :३६) से विवाह करने वाले दास ईसाई पुत्रवधू (कुरान, ३३:३७-३८) से निकाह करने वाले मुसलमान और धरती के किसी नारी के बलात्कार के बदले स्वर्ग पाने वाले (बाइबल, याशयाह १३:१६) (कुरान २३:) दास और भेंड़ ईसाई मुसलमान और सोनिया के मातहत और उपकरण लोकसेवक वैदिक सनातन धर्म को मिटाने के लिए सम्मानित भद्र पुरुष बन गए हैं! अजान द्वारा और आप की नारियों का बलात्कार कर आप को अपमानित और वीर्यहीन कर रहे हैं?

उपरोक्त उद्धरण के अनुसार ईसाई और मुसलमान का वध करना अपराध नहीं है| दंड देने का अधिकार राज्य के पास होता हैआर्यावर्त सरकार की स्थापना धर्म रक्षार्थ की गई है| आतताई जजों से वैदिक सनातन धर्म बचाना हो तो सोनिया को जेल भेजने में हमें सहयोग दीजिए| यदि ईसाई मुसलमान भी जीवन और सम्मान चाहें तो आर्यावर्त सरकार को सहयोग दें, अन्यथा मानव जाति ही डायनासोर की भांति लुप्त हो जायेगी|


Comments