Godhra and CMModi

गोधरा और मोदी

गोधरा पर चर्चा नहीं है, लेकिन बेस्ट बेकरी पर? लेकिन क्यों?

धर्मएव हतो हन्ति धर्मो रक्षति रक्षतः

तस्माद्धर्मो हन्तब्यो मानो धर्मो ह्तोऽवधीत.

अर्थ: रक्षा किया हुआ धर्म ही रक्षा करता है, और अरक्षित धर्म मार डालता है, अतएव अरक्षित धर्म कहीं हमे मार डाले, इसलिए बल पूर्वक धर्म की रक्षा करनी चाहिए. (मनु स्मृति :१५).

जो भी पन्थनिरपेक्ष है-आत्मघाती और अपराधी है| भारतीय संविधान के अनुच्छेद २९() से प्राप्त अधिकार से अपने मजहब का पालन करते हुए उसकी हत्या या तो ईसाई (बाइबल, लूका १९:२७) करेगा अथवा मुसलमान (कुरान :१९१).

ईसा १० करोड़ से अधिक अमेरिकी लाल भारतीयों और उनकी माया संस्कृति को निगल गया. अब ईसा की भेंड़ सोनिया काले भारतीयों और उनकी वैदिक संस्कृति को निगल रही है| सोनिया के सहयोग से अर्मगेद्दन के पश्चात ईसा जेरूसलम को अपनी अंतर्राष्ट्रीय राजधानी बनाएगा| मुलायम के प्रिय इस्लाम सहित सभी मजहबों और संस्कृतियों को निषिद्ध कर देगा| केवल ईसा और उसके चित्र की पूजा हो सकेगी| बाइबल के अनुसार ईसा यहूदियों के मंदिर में ईश्वर बन कर बैठेगा और मात्र अपनी पूजा कराएगा| हिरण्यकश्यप की दैत्य संस्कृति न बची और केवल उसी की पूजा तो हो सकी, अब ईसा की बारी है| विशेष विवरण नीचे की लिंक पर पढ़ें,

http://www.countdown.org/armageddon/antichrist.htm

अल्लाह उसके इस्लाम ने मानव जाति को दो हिस्सों मोमिन और काफ़िर में बाँट रखा है. धरती को भी दो हिस्सों दार उल हर्ब और दार उल इस्लाम में बाँट रखा है. (कुरान :३९) काफ़िर को कत्ल करना दार उल हर्ब धरती को दार उल इस्लाम में बदलना मुसलमानों का मजहबी अधिकार है. (एआईआर, कलकत्ता, १९८५, प१०४). चुनाव द्वारा इनमें कोई परिवर्तन सम्भव नहीं|

मानव जाति को खतरा भारतीय संविधान, कुरान और बाइबल से है| सोनिया को यह जान कर प्रसन्नता होगी कि इस देश के नागरिक उस भारतीय संविधान का अब भी आदर करते हैं, जिसके अनुच्छेद २९() ने नारी को बलात्कार की वस्तु घोषित कर रखा है| (बाइबल, याशयाह १३:१६) (कुरान २३:). मानव मात्र को कत्ल किये जाने योग्य अपराधी घोषित कर रखा है| (बाइबल, लूका १९:२७) (कुरान, सूरह  अल अनफाल :३९). उपासना स्थल तोडना हर ईसाई मुसलमान का संवैधानिक अधिकार घोषित कर रखा है| (बाइबल, व्यवस्था विवरण १२:-) (कुरान, बनी इस्राएल १७:८१ व कुरान, सूरह अल-अम्बिया २१:५८). हर नागरिक से सम्पत्ति पूँजी रखने का अधिकार छीन रखा है| भारतीय संविधान के अनुच्छेद ३९() से भी तसल्ली नहीं हुई तो दंड प्रक्रिया संहिता की धारा १९६ १९७ का भी संकलन कर डाला| सती प्रथा निवारण कानून, १९८७, द्वारा सती का महिमा मंडन करना अपराध घोषित करना काफी था अतएव अब उज्ज्वला शर्मा का महिमामंडन कर पूर्व राज्यपाल नारायण दत्त तिवारी से अधिकार दिलाया जा रहा है|

इंडिया के नागरिक एक आक्रांत एवं पराजित राष्ट्र की भेंड़े हैं।

इंडिया के नागरिकों के पास प्राइवेट प्रतिरक्षा का अधिकार है| (भारतीय दंड संहिता की धाराएं १०२ व १०५). लेकिन जहां राज्य स्वयं वैदिक सनातन धर्म को मिटा रहा हो, वहाँ राज्य ही राज्य से लड़ सकता है| आर्यावर्त सरकार की स्थापना वैदिक सनातन धर्म के रक्षा के लिए की गई है| निर्णय इंडिया के नागरिकों के हाथ में है| वोट द्वारा भी वे जीने, सम्पत्ति व पूँजी का अधिकार नहीं पा सकते|

आर्यावर्त सरकार भारत के नागरिकों को सम्पत्ति व पूँजी का अधिकार देगी| आर्यावर्त सरकार वैदिक सनातन धर्म को लागू करेगी|

मे स्तेनो जनपदे कर्दर्यो मद्यपो नानाहिताग्निर्नाविद्वान्न स्वैरी स्वैरिणी कुतो

छान्दोग्योपनिषद, पंचम प्रपाठक, एकादश खंड, पांचवां श्लोक

अर्थ: कैकेय देश के राजा अश्वपति ने कहा, “मेरे राज्य में कोई चोर नहीं है, कंजूस नहीं, शराबी नहीं, ऐसा कोई गृहस्थ नहीं है, जो बिना यज्ञ किये भोजन करता हो, ही अविद्वान है और ही कोई व्यभिचारी है, फिर व्यभिचारी स्त्री कैसे होगी?”

वैदिक राज्य में चोर, भिखारी और व्यभिचारी नहीं होते थे. स्वयं मैकाले ने फरवरी १८३५ को इस बात की पुष्टि की है. लेकिन इंडिया का संविधान ही चोर है. भारतीय संविधान का अनुच्छेद ३९(ग) व लुप्त अनुच्छेद ३१. लेकिन भारतीय संविधान को चोर कहना सोनिया के रोम राज्य के विरद्ध भारतीय दंड संहिता के धारा १५३ २९५ के अंतर्गत अपराध है और संसद विधानसभाओं के विशेषाधिकार का हनन भी| जो भी इस सच्चाई को कहे या लिखेगा, उसे सोनिया दंड प्रक्रिया संहिता की धारा १९६ में जेल भेजवा देंगी. मुसलमान ईश निंदा में कत्ल करेगा. मै ४२ बार हवालात और जेल गया हूँ| और हमारे अधिकारी आज भी जेलों में बंद हैं..


Comments